मित्रों के साथ अभी शेयर करें

Swar Kise Kahate hain: स्वर किसे कहते हैं?

आज के आलेख में हम सब जानेंगे स्वर किसे कहते हैं (Swar kise kahate hain)? स्वर की परिभाषा क्या है? इसके अतिरिक्त हम सब यह भी जानेंगे कि स्वर कितने होते हैं?

स्वर किसे कहते हैं? (Swar Kise Kahate hain)-

हिंदी व्याकरण में स्वर वर्णमाला का एक भाग है। हिंदी व्याकरण में स्वर का उच्चारण करते समय हमारे मुंह से हवा बिना बाधा के बाहर आती है
स्वर वर्ण, व्यंजन वर्णों के उच्चारण में सहायता प्रदान करते हैं।
प्रत्येक व्यंजन में अ स्वर समाहित होता है।
हिंदी वर्णमाला में स्वर पहले आता है तथा व्यंजन बाद में आता है|

स्वर की परिभाषा (Swar Ki paribhasha)-

स्वर वर्ण ऐसे वर्ण को कहा जाता है जिनका उच्चारण बिना किसी दूसरे वर्ण की सहायता से किया जाता है।
स्वर स्वतंत्र वर्ण हैं।

स्वर वर्ण कितने होते हैं?(Swar Kitne Hote hain)-

स्वर कितने होते हैं (How many Swar in hindi)? इस प्रश्न का उत्तर यह है कि इनकी संख्या 11 होती है।

  • अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ

अं और अ: को वर्णमाला में न तो स्वर कहा गया है और ना ही व्यंजन
अं और अ: को अयोगवाह कह कर पुकारते हैं।
अं को अनुस्वर तथा अ: को विसर्ग कहते हैं।
हिंदी वर्णमाला में अं और अ: का प्रयोग स्वर के पश्चात तथा व्यंजन के पूर्व होता है।

विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में बताए गए टॉपिक से पूछे जाने वाले प्रश्न-

विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में हिंदी के इस टॉपिक से निम्न प्रश्न पूछे जाते हैं।

  • स्वर किसे कहते हैं (Swar Kise kahate hain)?
  • स्वर की परिभाषा क्या है?
  • स्वर कितने होते हैं?

यदि हमारे द्वारा provide कराया गया content आपकी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में उपयोगी साबित हो रहा है और आप संस्थान को शिक्षा के इस अभियान में कोई सहयोग करना चाहते हैं तो आप अपना सहयोग UPI के माध्यम से [email protected] या [email protected] पर कर सकते हैं। आपका छोटे से छोटा सहयोग संस्थान के इस शिक्षा अभियान को जारी रखने में मददगार होगा। 

error: Content is protected !!